निदेशक, डीआईटी एंड सीएस
डॉ एस के पाल
निदेशक, डीआईटी एंड सीएस

श्री संजय पाल ने 22 अगस्त 2019 को डीआरडीओ मुख्यालय में सूचना प्रौद्योगिकी एवं साइबर सुरक्षा निदेशालय (डीआईटीएवंसीएस) के निदेशक के रूप में कार्यभार संभाला है।

इन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय (1991) से इंजीनियरिंग (कंप्यूटर) में स्नातक तथा जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (1993) से एम.टेक (कंप्यूटर विज्ञान) किया हैं। उन्होंने डीआरडीओ में वैज्ञानिक 'बी' के रूप में, इंस्टीट्यूट फॉर सिस्टम स्टडीज एंड एनालिसिस (आईएसएसए), दिल्ली से अपना करियर शुरू किया, जहां उन्होंने 13 साल की अवधि में विभिन्न असाइनमेंट में योगदान दिया। 2005 में, वैज्ञानिक 'ई' के रूप में उन्हें भर्ती और आकलन केंद्र (आरएसी), दिल्ली में नियुक्त किया गया, जहां उन्होंने डीआरडीएस कैडर से संबंधित सभी भर्ती / आकलन गतिविधियों में योगदान दिया। इसके अलावा, उन्होंने विभिन्न प्रविष्टि प्रणालियों के माध्यम से डीआरडीओ की सेवा करने तथा प्रसंस्करण दक्षता में सुधार करने के इच्छुक उम्मीदवारों के लिए विभिन्न आईटी सुविधाओं को आरंभ और स्थापित किया।

रक्षा विज्ञान मंच (डीएसएफ) के सचिव के रूप में, उन्होंने 35 से अधिक एसएंडटी कार्यक्रमों को नियोजित तथा सफलतापूर्वक आयोजित किया। ये आईईईई (सीएस) के सहायक सदस्य, इंस्टीट्यूशन ऑफ इंजीनियर्स के फेलो, इंडियन साइंस कांग्रेस एसोसिएशन के आजीवन सदस्य, इंडियन सोसाइटी ऑफ कंप्यूटर इंजीनियर्स के वरिष्ठ सदस्य और यूनाइटेड सर्विसेज इंस्टीट्यूट के आजीवन सदस्य हैं। इनके पुरस्कार / मान्यता निम्नलिखित हैं:

पुरस्कार / मान्यता (आधिकारिक)

i. डीआरडीओ प्रौद्योगिकी पुरस्कार (1996)
ii. राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस (1997) भाषण के लिए सराहना
iii. राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस (2000) भाषण के लिए सराहना
iv. आरएसी अध्यक्ष से प्रशस्ति (2006)
v. राष्ट्रीय विज्ञान दिवस (2007) के लिए एसए से आरएम, सचिव डीडीआर एंड डी तथा आर एंड डी के महानिदेशक से प्रशस्ति
vi. वर्ष के प्रयोगशाला वैज्ञानिक का पुरस्कार (2007)
vii. एसए से आरएम, सचिव डीडीआर एंड डी तथा आर एंड डी के महानिदेशक से प्रशस्ति (2011)
viii. प्रयोगशाला प्रौद्योगिकी समूह पुरस्कार (2011-2012)
ix. वर्ष के डीआरडीओ वैज्ञानिक का पुरस्कार  (2012)
x. वर्ष के प्रयोगशाला वैज्ञानिक का पुरस्कार (2013-2014)
xi. एसए से आरएम, सचिव डीडीआर एंड डी तथा आर एंड डी के महानिदेशक से प्रशस्ति (2014)
xii. प्रयोगशाला प्रौद्योगिकी समूह पुरस्कार (2015)
xiii. वर्ष के प्रयोगशाला वैज्ञानिक का पुरस्कार (2016-2017)

पुरस्कार / मान्यता (व्यक्तिगत)

  • स्वैच्छिक रक्तदान (उस समय तक 50 से अधिक रक्तदान) (2004) के लिए रेड क्रॉस सोसाइटी / भारत सरकार से सराहना
  • 63 स्वैच्छिक रक्तदान (2011) के लिए एसए से आरएम, सचिव डीडीआर एंड डी तथा आर एंड डी के महानिदेशक से सराहना

Back to Top