संपर्क

अवसंरचना/उपलब्ध सुविधाएं


  • शीत प्रयोगशाला एवं उच्च तुंगता हिम अध्ययन केन्द्र
  • वास्तविक समय उपग्रह प्रतिबिम्ब ग्रहण प्रणाली
  • हिम प्रवणिका
  • आभासी वास्तविकता केन्द्र
  • सुदूर संवेदी प्रयोगशाला
  • उच्च छोर परिकलन केन्द्र
  • शीत क्षेत्र तकनीकी सूचना केन्द्र
  • शीत कंक्रीट परीक्षण सुविधा
  • ऊपरी वायु प्रेक्षण केन्द्र
  • उच्च तुंगता हिम अध्ययन प्रयोगशाला
  •  ताप-दीप्ति प्रयोगशाला
  • इलेक्ट्रॉनिक और यंत्रीकरण केन्द्र
  • डेटा प्राप्ति एवं संचार केन्द्र
  • डिजाइन प्रयोगशाला


शीत प्रयोगशाला और उच्च तुंगता हिम अध्ययन केन्द्र


हिम एवं हिमस्खलन अध्ययन प्रतिष्ठान में मनाली में शीत प्रयोगशाला सुविधाएं और पाटसियो (3800 एम) में क्षेत्र अनुसंधान केन्द्र विद्यमान हैं। यह सुविधा पूरे वर्ष हिम एवं हिमस्खलन अनुसंधान सुकर बनाने के लिए वैज्ञानिक अनुसंधान क्षमताओं और संसाधनों का अद्वितीय समुच्चय प्रस्तुत करती है। शीत प्रयोगशाला में विशिष्ट प्रकार की हिम और बर्फ प्रतिचयन भंडारण सुविधा, पर्यावरण नियंत्रित वॉक-इन शीत कक्ष, उपस्कर, यंत्रीकरण तथा वैज्ञानिक महारत के साथ हिम, बर्फ और संबंधित सूचीविषयों के विस्तृत वैज्ञानिक अध्ययन के लिए विशेष डिजाइन की गई सुविधाएं उपलब्ध हैं।

शीत प्रयोगशाला और प्रशीतन प्रणाली

अनुप्रयोग:

  • निम्न तापमानों पर पर्यावरण नियंत्रित परीक्षण। अध्ययनों में निम्नलिखित सम्मिलित हैं

    • बर्फ और हिम के मंद विरूपण, शक्ति माप और विफलन गुण
    • हिम के विभंजन यांत्रिक गुण
    • सूक्ष्मवेधनमिति
    • आदिप्ररूप विशेष परीक्षण फिक्सचर्स का परीक्षण
    • कायांतरण, ऊष्मा/संहति अंतरण विश्लेषण तथा नमी तत्वांश अभिलक्षणन
    • एक्स-रे माइक्रो सीटी द्वारा सूक्ष्मसंरचना - गुण विश्लेषण
    • ताप चालकता और विसरण घातांक प्रतिरूपण
    • हिम और बर्फ तंतु अभिलक्षणन, प्रकाशि - सूक्ष्मदर्शिकी
    • तनु अनुभागिक, क्रमिक अनुभागन तथा 3-डी सूक्ष्मसंरचना प्रतिरूपण


सामान्य वर्णन:

  • प्रयोगशाल-ग्रेड कक्ष (03 वॉक-इन कक्ष तथा 04 भंडारण कक्ष) तापमान -40 डिग्री सेंटीग्रेड तक नीचा रखने में सक्षम
  • विशेषीकृत हिम प्रतिरूप तैयार करना तथा यांत्रिक/भौतिक परीक्षण उपस्कर

    •    एक्स-रे परिकलित माइक्रो-टॉमोग्राफी प्रणाली
    •    सूर्य अनुकारी
    •    10 केएन क्षमता (डारटेक) हाइड्रॉलिक यूटीएम
    •    5 केएन क्षमता (लॉयड) यूटीएम
    •    त्रि अक्षीय और अपकेन्द्रीय तनन परीक्षण मशीन 
    •    स्वचलित फील्ड शियर और तनाव उपकरण
    •    छनन हलित्र, कायांतरण उपकरण
    •    पॉलि-कट माइक्रोटोम, स्टीरियो माइक्रोस्कोप्स
    •    तापीय गुण मापन प्रणाली
    •    हिम माइक्रो पेन

सामग्री का परीक्षण मशीनें और त्रि-अक्षीय सेल

बर्फ माइक्रो पेन और केन्द्रापसारक मशीन

पाली-कट माइक्रोटोम, स्टीरियो माइक्रोस्कोप एवं 3 डी मॉडलिंग







वास्तविक समय उपग्रह प्रतिबिम्ब ग्रहण प्रणाली


एसएएसई मेटओप पोलर परिभ्रामी उपग्रह से प्रतिबिम्बों का वास्तविक समय प्रग्रहण आरंभ कर दिया है। एवीएचआरआर-3 सेंसर 6 स्पेक्ट्रल बैंड्स मे डेटा अर्जित करता है जिनमें दृश्य, एनआईआर, एसडब्ल्यूआईआर और तापीय क्षेत्र सम्मिलित हैं। इसका आकाशीय वियोजन 1.1 किमी तथा रेडियोमीट्रिक वियोजन 10 बिट है।

मेटॉप उपग्रह प्रतिबिम्बों की भू केन्द्र सूची तथा पल्ल्वचारण प्रणाली


अनुप्रयोग:

  • हिम और बर्फ आवरण क्षेत्र का मानचित्रण
  • तुंगता क्रम में ऋतुनिष्ठ हिम रेखा मानचित्रण
  • हिम पृष्ठ तापमान मानचित्र
  • हिमस्खलन बहुल क्षेत्रों का परिवर्तन अन्वेषण अध्ययन
  • हिम विशेषताएं
  • तापमान और नमी पाश्र्विकाएं
  • हिम गहराई और हिम जल तुल्यांक का आकलन



हिम प्रणाल


हिमस्खलन संकट रक्षा स्कीम के लिए हिमस्खलन के वेग और संबद्ध बलों का सटीक अनुमान अपेक्षित होता है। एसएएसई ने नियंत्रित स्थितियों में विभिन्न प्रवाह प्राचलकों के मापन हेतु ढुण्डी अनुसंधान केन्द्र (3050 एमएसएल) में एक हिम प्रणाल सुविधा सृजित की है। इन अध्ययनों में ऊर्जा विसरण क्षमता के लिए हिमस्खलन संहति के साथ नियंत्रण संरचनाओं की अन्योन्य क्रिया भी निहित होती है। ये अध्यययन ऊर्जा विसरण विशेषताओं के संवर्द्धन तथा एक व्यापक हिमस्खलन गतिकी प्रतिरूप के विकास हेतु संरचनाओं के विद्यमान डिजाइन में सुधार के लिए बहुत उपयोगी हैं।

हिम प्रणाल

अनुप्रयोग:


  • नियंत्रित पर्यावरण के अधीन कणिक प्रवाह का अनुकरण

    • हिमस्खलन गतिकी अध्ययन
    • घर्षण प्राचलक प्रतिरूपण
    • अंकीय प्रतिरूपकों का प्रमाणन
    • नियंत्रण संरचनाओं का प्रतिरूप अध्ययन


सामान्य वर्णन:


  • प्रणाल की कुल लम्बाई 62एम है, प्रमुख घटक हैं:

    • हॉपर: परीक्षण करने के लिए हिम पुंज के विमोचन हेतु
    • हिम का द्रवीकरण सुनिश्चित करने के लिए हॉपर के नीचे एक अपसारी-अभिसारी अनुभाग
    • ढलान चैनल खंड I: 22मी लंबी और 30 डिग्री पर झुका
    • ढलान चैनल खंड II: 08मी लंबा और 12 डिग्री पर झुका
    • परीक्षण प्लेटफार्म: ठहरे क्षेत्र में हिमस्खलन अध्ययन के लिए परिवर्तनीय झुकाव के साथ 12 मीटर x 4m आकार।


बर्फ ढलान पर स्थापित सेंसर



  •  प्रवाह वेग और प्रोफ़ाइल माप के लिए सीसीडी कैमरा और डिजिटल वीडियो रिकॉर्डर
  • गहराई और प्रवाह के वेग को मापने के लिए ऑप्टिकल सेंसर
  • प्रवाहित बर्फ द्रव्यमान और ढलान बेड के बीच कतरनी बल मापने के लिएल ड्रैग मीटर
  • सामान्य प्रभाव बल माप प्रणाली

हिमस्खलन गतिकी अध्ययन

प्रतिरूप परीक्षण



आभासी वास्तविकता केन्द्र


हिमालयी भूभाग का त्रिआयामी दृश्यीकरण उपयोगकर्ताओं को भीषण एवं खतरनाक भूभाग हिम आच्छादित हिमस्खलन बहुल क्षेत्रों के सूक्ष्म अंतरों से परिचित कराने के लिए प्रशिक्षण का एक उत्कृष्ट साधन है। इसका उपयोग निम्न रूपों में किया जा सकता है: हिमस्खलन भूभाग का परिचय, हिमस्खलन बचाव मिशन योजना इत्यादि। यथार्थिक दृश्य उपलब्ध कराने के लिए ग्रीष्म और शीत माहों के भू-संदर्भित उपग्रह प्रतिबिम्ब त्रिआयामी भूभाग प्रतिरूप के ऊपर आच्छादित किए जाते हैं।


अनुप्रयोग:

  • हिमस्खलन जोखिम क्षेत्रों के लिए 3डी सिमुलेशन मॉडल का विकास।
  • हिमस्खलन उन्मुख क्षेत्रों के मॉडल के माध्यम से बहु-परिप्रेक्ष्य 3-डी प्रयोक्ता परिभाषित उड़ान का सृजन।
  • बर्फ बाध्य क्षेत्रों में अधिष्ठापन से पूर्व प्रयोक्ता का प्रदेश से परिचित होना

अवसंरचना सुविधाएं:

  • 22 लोगों की बैठने की क्षमता सहित स्टीरियो प्रक्षेपण कक्ष
  • सक्रिय स्टीरियो सक्षम 9'x12 'स्क्रीन
  • बार्को 808 सीआरटी स्टीरियो प्रोजेक्टर
  • एसजीआई प्रिज्म ग्राफिक्स विज़ुअलाइज़ेशन सर्वर
  • हाई एंड ग्राफिक्स वर्कस्टेशन
  • ईआरडीएएस वर्चुअलवर्ल्ड सॉफ्टवेयर
  • जियोफ्यूज़न सॉफ्टवेयर
  • मल्टीगेंन पैराडिगम सॉफ्टवेयर
  • पोर्टेबल 3-डी स्टीरियो प्रोजेक्टर
  • स्टीरियो ग्लासिस




सुदूर संवेदी प्रयोगशाला


उत्तर पश्चिम हिमालयी क्षेत्रों के मानचित्रण हेतु उपयुक्त प्रतिरूपकों तथा कलन विधियों के विकास के लिए समय श्रृंखलाओं, बहु-संवेदी उपग्रह डेटा का विश्लेषण किया जा रहा है। ऋतुनिष्ठ हिम आवरण, हिम पैक अभिलक्षणन, उपग्रह डेटा से डीईएम सृजन, जीआईएस आधारित हिमस्खलन संकट प्रतिरूपण इस प्रयोगशाला में किए जा रहे अनुसंधान एवं विकास कार्यों के कुछ उदाहरण हैं। बृहद अंकीय डेटाबेस के भंडारण, पुन:लेखन, विश्लेषण एवं दृश्यीकरण के लिए अत्याधुनिक अवसंरचना सुविधाएं उपलब्ध हैं। अनुसंधान एवं विकास कार्यों के लिए जीआईएस टूल्स की कटिंग-ऐज इमेज प्रोसेसिंग का उपयोग किया जाता है। उच्च-वियोजन डिजिटल डेटा का विशाल भंडार सृजित किया गया है।




सुदूर संवेदन प्रयोगशाला मे उपलब्ध सॉफ्टवेयर

  • प्रतिबिम्ब संसाधन सॉफ्टवेयर: -
    ईआरडीएएस इमेजिन, ईएनवीआई, आईडीएल, एसएआरस्केप, जियोमैटिका
  • जीआईएस सॉफ्टवेयर: -
    आर्कजीआईएस, आर्कव्यू, आर्क एसडीई, आर्क इमेज सर्वर

बहु-संवेदी उपग्रह डेटा:

  • प्रकाशिक डेटा
    आईआरएस-एडब्ल्यूआईएफएस, डब्ल्यूआईएफएस, एलआईएसएस IV, एलआईएसएस III,        पीएएन, कार्टोसैट-1, स्टीरियो, आइकोनोस, मोडिस, एवीएचआरआर, क्वाइडबर्ड, लैण्डसैट ईटीएम+ इत्यादि
  • सूक्ष्मतरंग डेटा
    एनवीसैट-एएसएआर, टेराएसएआर-एक्स, रेडारसैट-1 एवं 2, एएलओएस पीएएलएसएआर, ईआरएस 1 एवं 2, एएमएसआर-ई, एसएसएम/आई

फील्ड यंत्रोपकरण:



स्पेक्ट्रोरेडियोमीटर, डायलेक्ट्रिक मोइस्चर मीटर, ग्राउण्ड पेनीट्रेटिंग रेडार, जीपीएस, ऐल्बीडोमीटर, पैसिव माइक्रोवेव रेडियोमीटर, एयर बोर्न जीपीआर, सन फोटोमीटर, ओज़ोनोमीटर, स्नो फॉर्क इत्यादि


डिजाइन प्रयोगशाला मे उपलब्ध सॉफ्टवेयर:



ऑटो कैड सिविल 3डी, फ्लूएंट, सॉलिड वक्र्स, एबैकस, टोडेस्क इन्वेंटर, ईडीईएम, ऑटोडेस्क मैप 3डी, स्टाड प्रो

.
.
.
.
Top