संपर्क

दृष्टि

जैव-ऊर्जा संसाधनों के पर्यावरण अनुकूल अनुप्रयोग हेतु उत्कृष्टता केन्द्र बनना।

उद्देश्य

रक्षा उपयोग हेतु जैव-ऊर्जा प्रौद्योगिकियों का विकास।

रक्षा जैव-ऊर्जा अनुसंधान संस्थान (डीआईबीईआर) (पूर्वतः रक्षा कृषि अनुसंधान प्रयोगशाला, डीएआरएल) रक्षा उपयोग के लिए जैवईंधन फसलों तथा जैव-डीजल के विषय में अनुसंधान एवं विकास में कार्यरत है। जैव-संसाधन संरक्षण, सुधार और इसका विवेकपूर्ण उपयोग तथा हिमालयी बूटियों से जैव-ऊर्जा उत्पाद। यह प्रयोगशाला हल्द्वानी, जिला नैनीताल (उत्तराखंड) में अवस्थित है।

.
.
.
.
Top