संपर्क
DRDO
मुख्य पृष्ठ > डीएफआरएल > आयोजित कार्यक्रम

आयोजित कार्यक्रम

  • डीआरडीओ रक्षा कर्मियों के कौशल उन्नयन और ज्ञान विस्तार के लिए वार्षिक आधार पर जारी शैक्षणिक कार्यक्रम और रिफ्रेशर पाठ्यक्रम
  • खाद्य विश्लेषण एवं गुणवत्ता आश्वासन में पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा (पीजीडी)
    • मैसूर विश्वविद्यालय द्वारा मान्यता प्राप्त/ प्रत्यायित
    • दस माह का पाठ्यक्रम, भारतीय खाद्य उद्योग के विविध क्षेत्रों को कौशलयुक्त श्रमशक्ति प्रदान करने पर लक्षित है
    • वार्षिक भर्ती—25 (पूरे भारत के विद्यार्थियों के लिए खुला)
    • प्रवेश जांच/ परीक्षा अगस्त में संचालित
    • पाठ्यक्रम सितम्बर में शुरु
  • खाद्य विज्ञान और तकनीक में पीएचडी कार्यक्रम
    • मैसूर विश्वविद्यालय द्वारा मान्यता प्राप्त
    • 10 महीनों तक पूरे समय की उपस्थिति शामिल है। शैक्षणिक दिवस न्यूनतम 200 दिनों का होगा और 7.5 घंटा प्रति दिन होगा। शनिवार और रविवार की छुट्टियों के अतिरिक्त, पाठ्यक्रम के दौरान सरकारी छुट्टियां भी मनाई जाएँगी। पाठ्यक्रम प्रत्येक वर्ष सामान्यतः अगस्त-सितम्बर में शुरु होता है।
प्रवेश प्रक्रिया

पाठ्यक्रम के लिए अधिकतम 20 विद्यार्थियों का दाखिला लिया जाएगा। सामान्यतः सीटों की भर्ती, स्वास्थ्य सेवा निदेशालय, राज्य जन स्वास्थ्य विभाग या खाद्य प्रसंस्करण उद्योग द्वारा प्रायोजित अभ्यर्थियों से होगी और साथ ही निदेशक द्वारा सीधे प्राप्त आवेदनों से भी होगी। चयन पूरी तरह से केवल योग्यता पर आधारित है। चयन के बाद, कर्नाटक राज्य के अतिरिक्त विश्वविद्यालयों के अभ्यर्थियों को उनके प्रवेश के लिए मैसूर विश्वविद्यालय से योग्यता प्रमाणपत्र प्राप्त करना आवश्यक है।

शिक्षा का माध्यम

अंग्रेजी

शुल्क संरचना

पाठ्यक्रम का शुल्क 20,000 रु है, जो ट्युटोरियल, व्याख्यान सामग्री, प्रयोगशाला सुविधाएं और उद्योगों का दौरा जैसा कि पूरे कोर्स के दौरान अभिकल्पित है, के लिए एक मुश्त देय है।

जो विद्यार्थी प्रवेश के बाद कोर्स को छोड़ना चाहते हैं, उनके द्वारा उपस्थित कक्षाओं की संख्याओं के निरपेक्ष जिसकी अधिकतम अवधि तीन महीने है, उनके पाठ्यक्रम शुल्क से 3000 रु. काटे जाएंगे। उसके बाद पूरे पाठ्यक्रम को समाप्त कर दिया जाएगा। विद्यार्थियों को 1000 रु. की एक वापसीयोग्य सतर्कता रकम, प्रयोगशाला और पुस्तकालय सुविधाओं के लिए देना आवश्यक है । सभी भुगतान डिमान्ड ड्राफ्ट के माध्यम से 'निदेशक, डीएफआरएल, मैसूर' के पक्ष में करना है।

योग्यता

अभ्यर्थी के पास एक मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से कुल न्यूनतम 50 प्रतिशत अंकों के साथ कम से कम रसायन शास्त्र / जैवरसायन के एक विषय के साथ विज्ञान में डिग्री या कृषिविज्ञान में बी.एससी डिग्री या पशुपालन विज्ञान या गृह विज्ञान/पोषण और आहार/खाद्य तथा पोषण/खाद्य विज्ञान एवं पोषण में बी.एससी होनी चाहिए।

नोट:- विद्यार्थी, जिन्होंने पत्राचार के माध्यम से बी.एससी. डिग्री प्राप्त किया है वे आवेदन करने के लिए योग्य नहीं हैं।

आरक्षण

15 प्रतिशत सीटें अजा और 7.5 प्रतिशत सीटें अजजा के लिए आरक्षित हैं। हालांकि, अजा/अजजा अभ्यर्थियों को आवेदन करने के लिए एवं लिखित परीक्षा में उपस्थित होने के लिए डिग्री स्तर पर कम से कम कुल 50 प्रतिशत अंक प्राप्त करना चाहिए। एक सीट मैसूर विश्वविद्यालय, मैसूर से खाद्य विज्ञान एवं पोषण में बी.एससी. डिग्री प्राप्त करने वाले अभ्यर्थी के लिए आरक्षित है।

प्रवेश के लिए पाठ्यक्रम

लिखित परीक्षा के लिए पाठ्यक्रम, डिग्री स्तर पर पढ़े गए रसायन शास्त्र, जैवरसायन, कृषिविज्ञान, पशु चिकित्सा विज्ञान, गृह विज्ञान, पोषण एवं आहार, खाद्य एवं पोषण, खाद्य विज्ञान एवं पोषण विषयों पर आधारित होगा।

आवास

डीएफआरएल कार्यालय के निकट डीएफआरएल कॉलनी में लड़कों और लड़कियों के लिए अलग-अलग हॉस्टल सुविधा उपलब्ध है।

पीजीडीएम कोर्स की विवरण-पुस्तिका और आवेदन पत्र (2018-19)

डीएफआरएल मैसूर में खाद्य विश्लेषण और गुणवत्ता आश्वासन पाठ्यक्रम में स्नातकोत्तर डिप्लोमा के लिए प्रवेश परीक्षा (2018-19)

और ज्यादा जानकारी के लिए संपर्क करें:

निदेशक
रक्षा खाद्य अनुसंधान प्रयोगशाला
सिद्धार्थ नगर, मैसूर -570011
फोन:0821-2473949
फैक्स:0821-2473468
ई-मेल : director@dfrl.drdo.in
dfrlmysore@sancharnet.in
dfrlmys@dataone.in

.
.
.
.
Top