संपर्क

दृष्टि

सेनाओं के लिए आधुनिकतम वैमानिकीय पद्धतियों, के विकास के लिए केन्द्र बनना

उद्देश्य

सेनाओं की वर्तमान आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए वैमानिकीय पद्धतियों का विकास करना और उनका उत्पादन करना और धीरे-धीरे  प्रोद्यौगिकी संरचना एवम् सक्षमताओं को बढ़ाना।

रक्षा अनुसंधान एवम् विकास संगठन (डीआरडीओ) में वैमानिकी विकास स्थापना (एडीई) एक प्रमुख वैमानिकीय पद्धति डिजाइन हाउस है। 1959 में इसके गठन से, एडीई भारतीय सशस्त्र सेनाओं द्वारा अपेक्षित विभिन्न प्रकार के वैमानिकीय पद्धतियों के डिजाइन एवम् विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही हैं।

एडीई के अनुसंधान, डिजाइन और विकास गतिविधियों में मानवरहित वायुयान पद्धति का विकास और अनुरूपकों समेत मानव युक्त वायुयानों की पद्धतियाँ शामिल होती हैं।

.
.
.
.
Top