संपर्क
DRDO

ऐतिहासिक पृष्ठभूमि

वैमानिकीय विकास स्थापना (ए डी ई) - इसकी स्थापना 1959 में बंगलौर के हाई ग्राउंड मे की गई थी।

1950 और 60 के दशकों में अनेक वैमानिकीय परियोजनाएं चलाई गयी थीं। इनमें से सबसे महत्वपूर्ण परियोजना होवरक्राफट/वीटीओएल और डार्ट टारगेट थीं। एडीई में आर एंड डी गतिविधियों का तीव्र विकास उन्नीस सौ सत्तर और अस्सी के दशकों में हुआ और हाई ग्राउंड मे जगह की कमी के कारण, स्थापना की बढ़ती आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए, मई 1974 के दौरान, एचएएल II चरण में एक नए स्थल का अधिग्रहण किया गया जहां पर इस समय संस्थान स्थापित है।

संस्थान ने मानव रहित हवाई वाहन पद्धतियों, लड़ाकू वायुयान पद्धतियाँ विशेषतौर पर उड़ान नियंत्रण पद्धतियां और वायुयान अनुरूपकों से संबंधित विशेषता और प्रोद्यौगिकियों को विकसित किया हैं। मानव रहित हवाई वाहनों में न्यून गति वाले लंबी क्षमता प्रकार के और उच्च गति वाले वायुयान आते हैं जिनमें टारगेट वायुयान और परिभ्रमण वाहन शामिल हैं।

मानव रहित हवाई वाहनों के क्षेत्र में प्रमुख परियोजनाएं आरंभ की गईं नामतः मिसाइल टारगेट उल्का, मिनी आरपीवी कपोथका, पुनः प्रयोग टारगेट पद्धति लक्ष्य, सर्वेक्षण एवम् निगरानी यूएवी निशांत बमों के लिए लेज़र निर्देशित किट, परिभ्रमण वाहन, माइक्रो वायु वाहन, लंबी क्षमता के यूएवी रस्टम 1 एवम्, रस्टम H और हाल ही में मानव रहित लड़ाकू हवाई वाहनों से संबंधित अध्ययन भी इसमें आरंभ किए गए हैं।

एडीई हल्के लड़ाकू वायुयान तेजस के कार्यक्रम में एक प्रमुख भागीदार बना और अनेक महत्वपूर्ण पद्धतियों/प्रोद्यौगिकियों के विकास में इसने व्यापक योगदान दिया जिसमें निम्नलिखित शामिल हैं:-

  • उड़ान नियंत्रण और वायुयान के स्थिरीकरण के लिए चतुष्क अतिरिक्त अंकीय फलाई-बाइ-वायर उड़ान नियंत्रण पद्धति।
  • कॉकपिट डिस्प्ले पद्धति
  • वायुयान के उड़ान और संचालन गुणों के मूल्यांकन के लिए इंजीनियरी अनुरूपक।
  • उड़ान नियंत्रण प्रणाली हार्डवेयर की जांच के लिए मिनी बर्ड और एक्चुएटर जांच रिग।
  • एविआनिक्स पद्धतियों और सॉफ्टवेयर की जांच के लिए अंकीय एविआनिक्स एकीकरण रिग।

पिछले दो दशकों से, आधुनिकतम पद्धतियों और प्रोद्यौगिकियों के स्वदेशी विकास के साथ तीन सशस्त्र सेनाओं की सैन्य वैमानिकी के क्षेत्र की आवश्यकताओं को पूरा करने में एडीई एक प्रसिद्ध व्यवस्था स्थापना बन चुकी है।

इसके प्रारंभन से एडीई का संचालन निम्नलिखित निदेशकों द्वारा किया गया हैं।:

  से तक
डा.ओपी मैडिरत्ता 19-01-1959 16-08-1968
डब्ल्यूडी सीडीआर पी गोपालन 17-08-1968 04-04-1970
श्री विवेक आर. सिन्हा 05-04-1970 13-07-1974
एयर सीएमडीई एचएन कृष्णामूर्ति 14-07-1974 14-12-1981
एवीएम एचएन कृष्णामूर्ति 15-12-1981 31-07-1985
श्री बीजी पाटवरधन 01-08-1985 29-10-1985
डा.कोटा हरिनारायणा 30-10-1985 25-06-1986
डा. केडी नारायणन 26-06-1986 18-01-2002
श्री एमडी अरावमुधन 19-01-2002 31-10-2005
श्री जी एलंगोवण 01-11-2005 18-05-2007
श्री पीएस कृष्णन 19-05-2007 आज तक

 
.
.
.
.
Top